ख़बरराष्ट्रीय

संसद में आज राष्ट्रपति का अभिभाषण, AAP बहिष्कार करेगी:

विपक्ष डिप्टी स्पीकर का भी चुनाव लड़ेगा; के. सुरेश फिर उम्मीदवार हो सकते हैं

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू गुरुवार को लोकसभा और राज्यसभा की संयुक्त बैठक को संबोधित करेंगी। इसमें वे 5 साल के लिए केंद्र सरकार के रोडमैप की रूपरेखा पेश करेंगी। ये बैठक नई संसद में होगी, जहां राष्ट्रपति मुर्मू का संबोधन सुबह 11 बजे होगा। सभी सांसदों को सुबह 10.30 बजे तक संसद पहुंचने और 10.55 बजे तक लोकसभा चैंबर में अपनी सीट पर बैठने को कहा गया है।

AAP सांसद संदीप पाठक ने कहा- केजरीवाल के खिलाफ लगातार कार्रवाई के विरोध में आज हम राज्यसभा में प्रदर्शन करेंगे और राष्ट्रपति के अभिभाषण का बहिष्कार करेंगे।

स्पीकर का चुनाव हारने के बाद विपक्ष अब डिप्टी स्पीकर के लिए दावेदारी करेगा। रिपोर्ट्स की मानें तो विपक्ष ने कांग्रेस सांसद के. सुरेश को डिप्टी स्पीकर के लिए प्रत्याशी बनाने पर सहमति बना ली है। के. सुरेश विपक्ष के स्पीकर पद के भी उम्मीदवार थे, वे NDA के ओम बिरला से ध्वनि मत से यह चुनाव हार गए थे।

AAP द्वारा राष्ट्रपति के अभिभाषण का बहिष्कार करने पर शिवसेना (UBT) नेता संजय राउत ने कहा- केजरीवाल को जिस प्रकार से फिर एक बार जमानत मिलने के बाद भी CBI ने गिरफ्तार किया, ये आपातकाल से भी ऊपर तानाशाही हो गई। हम सब लोग संसद में इस बारे में सवाल पूछेंगे। जिस तरह से तानाशाही चल रही है, उसकी जिम्मेदार राष्ट्रपति भी हैं। राष्ट्रपति को सरकार को रोकना चाहिए

सपा सांसद बोले- संसद से सेंगोल हटाया जाए

सपा सांसद आरके चौधरी ने एक मीडिया चैनल से बातचीत में कहा- संसद में रखा सेंगोल राजशाही का प्रतीक है। इसे संसद से हटाया जाना चाहिए। पिछले साल मई में संसद के उद्धाटन के वक्त पीएम मोदी ने स्पीकर की आसंदी के पास सेंगोल को स्थापित किया था।

AAP सांसद संदीप पाठक ने कहा- केजरीवाल के खिलाफ लगातार कार्रवाई के विरोध में आज हम राज्यसभा में प्रदर्शन करेंगे और राष्ट्रपति के अभिभाषण का बहिष्कार करेंगे। CBI भाजपा के एजेंट के रूप काम कर रही है। जब भाजपा को लगा कि निचली अदालत से केजरीवाल को बेल मिल चुकी है। उसमें लिखा है कि ED पक्षपात पूर्ण व्यवहार कर रही है। कोई गड़बड़ी नहीं हुई है सभी निर्दोष हैं। इनको लगा कि बेल मिल सकती है तो इन्होंने CBI को बोला कि आप मामले में आगे आओ। इनका एक ही मकसद है कि कैसे भी करके केजरीवाल को अंदर रखा जाए। तानाशाही का यही प्रमाण है।

 

राष्ट्रपति मोदी सरकार का अगले 5 साल का विजन रख सकती हैं

राष्ट्रपति के अभिभाषण के जरिए सरकार अपनी नीतियों और कार्यक्रमों का रोडमैप सामने रखती है। ऐसे में आज राष्ट्रपति के अभिभाषण के माध्यम से लगातार तीसरी बार सत्ता में आई मोदी सरकार अपना विजन और रोडमैप का खुलासा कर सकती है। मुर्मू के अभिभाषण के बाद सत्तारूढ़ दल संसद के दोनों सदनों में धन्यवाद प्रस्ताव पेश करेगा, जिस पर सदस्य चर्चा करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी 2 या 3 जुलाई को धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब दे सकते हैं।

लोकसभा स्पीकर और राज्यसभा सभापति दोनों राजस्थान से

बिरला भाजपा के पहले ऐसे सांसद हैं, जो लगातार दूसरी बार स्पीकर बने। वे राजस्थान के कोटा से तीसरी बार जीत कर आए हैं। खास बात यह है कि देश के उपराष्ट्रपति और राज्यसभा के सभापति जगदीप धनखड़ भी राजस्थान से आते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button