ख़बर

डिप्टी रेंजर की दबंगई, सर्व आदिवासी समाज में भारी आक्रोश

मुंगेली। जिले के खुड़िया क्षेत्र में पदस्थ डिप्टी रेंजर विवाद थमने का नाम नही ले रहा है. अब इस मामले में सर्व आदिवासी समाज ने कार्रवाई पर सवाल उठाते हुए मोर्चा खोल दिया है. दरअसल बीते महीने पहले भूतकछार सर्किल के जंगल के कक्ष क्रमांक 486 में करंट तार की चपेट में आने से हाथी की मौत हुई थी. इस मामले में 9 आरोपियों के खिलाफ डिप्टी रेंजर प्रबल दुबे के नेतृत्व में कार्रवाई करते हुए एफआईआर दर्ज किया गया है. इनमें तीन आरोपियों को जेल भी दाखिल किया गया है.

बताया जा रहा है कि बीते 4 मई को ग्राम सरगढ़ी के विसंभर सिंह को वन विभाग की टीम ने गिरफ्तार किया था, जिसे कस्टडी में डिप्टी रेंजर पर मारपीट का गंभीर आरोप है. मारपीट से गिरफ्तार युवक के शरीर के पिछले हिस्से में चोट का गंभीर निशान दिखाई दे रहा है. इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. आदिवासी समाज के लोगों ने डेढ़ माह पर पहले विभाग के चौकीदार भादुराम कोलाम की शिकायत पर डिप्टी रेंजर के खिलाफ एट्रोसिटी के तहत एफआईआर दर्ज कराया था. उनके खिलाफ निलंबन सहित उनकी गिरफ्तारी की मांग को लेकर लगातार शिकायत की गई, लेकिन उक्त शिकायत में कोई कार्रवाई नहीं की गई. इसके चलते दो दिनों पहले डिप्टी रेंजर से नाराज ग्रामीणों ने जंगल में डिप्टी रेंजर की जमकर पिटाई कर दी. इस घटना की सूचना पर डिप्टी रेंजर दुबे को पुलिस की मदद से 50 बिस्तर अस्पताल लाया गया, जहां पर प्राथमिक उपचार के बाद एक दिन बाद उन्हें जेल दाखिल कर दिया गया. साथ ही डिप्टी रेंजर प्रबल दुबे की शिकायत पर तीन ग्रामीणों के खिलाफ नामजद सहित अन्य आरोपियों के खिलाफ मारपीट करने और शासकीय कार्य में बाधा डालने के आरोप में एफआईआर दर्ज किया गया है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button