छत्तीसगढ़

घर की अलमारी में आतंकियों का बंकर

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में 6 और 7 जुलाई को मुदरघम और चिन्निगम फ्रिसल में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच फायरिंग हुई थी। एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने 6 आतंकियों को मार गिराया था। 2 जवान भी शहीद हुए थे। अधिकारियों के अनुसार, मारे गए आतंकी हिज्बुल मुजाहिदीन से जुड़े थे। इनमें एक पाकिस्तान से जुड़े आतंकवादी संगठन का स्थानीय कमांडर भी था।

एनकाउंटर के बाद आर्मी की सर्चिंग को लेकर एक वीडियो सामने आया है। वीडियो में एक घर के अंदर लकड़ी की अलमारी दिख रही है। अलमारी के पीछे कुछ ड्रॉवर बने हैं, जिन्हें हटाने पर एक सकरा सा रास्ता दिखता है। यह रास्ता बंकर की ओर जाता है। दावा है कि चिनिगाम फ्रिसल इलाके में मारे गए 6 में से 4 आतंकी इसी बंकर में छिपते थे।DGP बोले- आतंक के खात्मे की लड़ाई अंजाम तक पहुंचेगी
जम्मू-कश्मीर के DGP आरआर स्वैन ने कहा कि इतनी बड़ी संख्या में आतंकवादियों को मार गिराना एक बड़ी उपलब्धि है। सुरक्षा माहौल को मजबूत करने की दिशा में यह मील का पत्थर है। स्वैन ने कहा कि ऑपरेशन की सफलता इस बात का संकेत है कि जम्मू-कश्मीर में आतंक के खात्मे की लड़ाई अंजाम तक पहुंचेगी।

कुलगाम में आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर पहले फायरिंग की थी
कुलगाम के मुदरघम में शनिवार (6 जुलाई) की सुबह सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस ने जॉइंट ऑपरेशन के तहत सर्च ऑपरेशन शुरू किया था। इस दौरान आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर गोलीबारी की थी, जिसमें हरियाणा के रहने वाले लांस नायक प्रदीप नैन शहीद हो गए।

वहीं, चिन्निगम में शनिवार की दोपहर में मुठभेड़ शुरू हुई थी। शाम होते-होते जवानों ने 4 आतंकियों का एनकाउंटर कर दिया। ड्रोन कैमरे में सभी की लाशें दिखीं। फिलहाल, मारे गए आतंकियों की पहचान नहीं हो सकी है। चिन्निगम में शहीद हुए जवान की पहचान प्रवीण जंजाल के रूप में हुई है। वे महाराष्ट्र के अकोला जिले के रहने वाले थे।

बीते एक महीने (6 जून से 6 जुलाई तक) में सुरक्षाबलों ने 9 आतंकियों को मारा है। इनमें डोडा में 11-12 जून लगातार दो दिन दो हमले करने वाले आतंकी और उरी में घुसपैठ करने वाले आतंकियों का एनकाउंटर शामिल है।

जून में 7 घटनाओं में 9 आतंकी मारे गए

26 जून: डोडा में 3 आतंकी मारे गए
डोडा जिले के गंडोह इलाके में 26 जून को सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिराया था। सुबह 2-3 आतंकियों के इलाके में छिपे होने की सूचना के बाद पुलिस और सेना ने सर्च ऑपरेशन लॉन्च किया था, जिसके बाद सुबह 9.50 बजे एनकाउंटर शुरू हुआ था। इस एनकाउंटर में जम्मू-कश्मीर पुलिस में तैनात स्पेशल ऑपरेशंस ग्रुप का जवान भी घायल हुआ था

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button