छत्तीसगढ़

सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर युवाओं को लगाया लाखों का चूना

रायपुर। राजधानी में देवेंद्र नगर पुलिस ने बेरोजगार युवाओं को अलग-अलग सरकारी विभागों में नौकरी दिलवाने का झांसा देकर लाखों की ठगी करने वाले शातिर अपराधी को गिरफ्तार किया है. आरोपी ने देवेंद्र नगर में ऑफिस खोल रखा था और पीड़ितों से पैसे लेने के बाद फरार हो गया था. इसके बाद उसने पीड़ितों से ठगी कर जुटाई रकम से नई कार खरीद ली थी, जिसे पुलिस ने जब्त कर लिया है

देवेंद्र नगर पुलिस ने बताया कि आरोपी का नाम विजय जांवड़े (उम्र 24 साल) है, शातिर ठग ने बेरोजगारों को प्रभावित करने के लिए देवेंद्र नगर इलाके में कार्यालय खोल रखा था. कुछ दिनों पहले जांजगीर-चांपा जिले के रहने वाले शिवकुमार साहू ने देवेंद्र नगर थाने में शिकायत दर्ज कराई कि 25 जुलाई 2023 से 13 अक्टूबर 2023 के बीच विजय जांगड़े ने नौकरी दिलाने के नाम पर 19.35 लाख रुपये ठगे. भरतलाल यादव के माध्यम से शिवकुमार की मुलाकात विजय से हुई, जिसने जिंदल पावर प्लांट में बेटे हरिशंकर और भांजी माधुरी को नौकरी दिलाने के एवज में क्रमशः 4 और 6 लाख रुपये मांगे. इसके बाद उसे शिवकुमार ने 3.10 लाख नकद दिए थे .

शिवकुमार के भाई चिंताराम साहू और मित्र नंदकुमार राठौर ने भी अपने बच्चों की नौकरी के लिए विजय से बात की. चिंताराम की पुत्री मंजुलता के लिए 6 लाख, पुत्र गजेंद्र के लिए 4 लाख, और नंदकुमार के पुत्र प्रकाश के लिए 4.50 लाख रुपये मांगे गए. शिवकुमार ने कुल 7 लाख रुपये नकद, 1.75 लाख रुपये कार्यालय में और बाकी फोन पे से दिए. विजय ने शिवकुमार को 7 लाख का चेक भी दिया. शिवकुमार के मोहल्ले के बादल गढ़ेवाल से भी उसने मडवा पावर प्लांट में नौकरी दिलाने के नाम पर 1 लाख रुपये ठग लिए. इस तरह विजय कुल 19.35 लाख रुपये ठगकर फरार हो गया था.

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button