ख़बर

पेड़ से गिरकर पहाड़ी कोरवा ग्रामीण की मौत, सामाजिक बहीष्कार के कारण परिवार वाले नहीं आए सामने, पत्नी और नाबालिग पुत्र की मौजूदगी में पुलिस करा रही अंतिम संस्कार

जिले के कदमझरिया गांव में रहने वाले एक पहाड़ी कोरवा बुटु राम की संदीग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है। बताया जा रहा है, कि मृतक मेहमानी में ग्राम तीतरडांड गया हुआ था, जहां पेड़ से गिरकर उसकी मौत होने की बात कही जा रही हैं, अस्पताल में भर्ती कराने के बाद गांव का कोई व्यक्ति उसे छोड़कर भाग गया था। समाज से बहीष्कृत होने के कारण घर और समाज का कोई भी व्यक्ति उसके अंतिम संस्कार को लेकर तैयार नहीं हुआ, लिहाजा 12 साल से पति से अलग रह रही पत्नी और उसका नाबालिग बेटा मौके पर पहुंचा और पुलिसिया कार्रवाई संपन्न करवाकर अंतिम संस्कार की तैयारी की जा रही है।

आधूनिकता के इस युग में आग भी लोग रुढ़ीवादी परंपरा से घिरे हुए है। शहरी क्षेत्रों में यह प्रथा लगभग समाप्ती की ओर है,लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में लोग अभी भी इसे कट्टरता से निभाते आ रहे है। ऐसा ही कुछ कदमझरिया निवासी पहाड़ी कोरवा बुटु राम के साथ भी हुआ। भतीजी के साथ प्रेम प्रसंग होने के कारण बुटु को समाज से बेदखल कर दिया,पत्नी भी उसका साथ छोड़कर अपने मायके चली गई। इस बीच मेहमानी में तीतरडांड गांव में पहुंचा बुटु पेड़ से गिरकर घायल हो गया। गांव के लोग उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराए,जहां उसकी मौत हो गई। समाजिक बहीष्कार का दंश झेल रहे बुटु के मामले में पुलिसिया कार्रवाई संपन्न कराने कोई नहीं पहुंचा। 12 साल से ग्राम चुईया में पति से अलग रह रही पत्नी को जब यह बात पता चली,तब वह अपने नाबालिग पुत्र के साथ मौके पर पहुंची और पुलिसिया कार्रवाई को संपन्न कराया।

मृतक के परिजन मिल जाने से पुलिस ने भी राहत की सांस ली है। चूंकी मृतक के परिवार ने उसका अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया है,लिहाजा पुलिस पत्नी और उसके बच्चे की मौजूदगी में बुटु राम का अंतिम संस्कार करा रही है। मामले में मर्ग पंचनामा की कार्रवाई पूरी कर ली गई है। लाश का पीएम कराया गया,फिर उसका कफन-दफन कराया जा रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button